Millionair Aadmi ke bharose ki kahani

Millionair Aadmi ki यह  story  है जिसने अपने जीवन में कम age में बहुत कुछ हासिल कर लिया था, जिसने एक बड़ी कंपनी की स्थापना की थी।

सब ठीक चल रहा था कि एक दिन तूफान आया कि उसके life का सब कुछ खत्म हो गया। उनकी करोड़ों की company, बैंक बैलेंस, सब कुछ डूब गया। करोड़ों का कर्ज भी सामने आया है।

इन सब बातों से बेचैन होकर वह आदमी कुछ समझ नहीं पा रहा था, इसलिए वह एक दिन एक garden में  गया और वह  उन सभी चीजों का याद करके रोने लगा जब वह आदमी बहुत Millionair था उनके पास दुनिया भर की तमाम सुविधाये और सारे ऐशो आराम थे ।

उसी garden में बैठा एक बूढ़ा व्यक्ति इस Millionair आदमी  को बहुत देर से देख रहा था, उस व्यक्ति का रोना वृद्ध व्यक्ति से देखा नहीं गया और वह उसके पास आया और उससे पूछा, “क्या हुआ son, why are you crying ?”

उस Millionair आदमी ने यह कहना जरूरी नहीं समझा और कहा – “नहीं, बाबा कुछ  नहीं है”।

बूढ़े ने उस व्यक्ति को अपना चेहरा दिखाया और उससे कहा, son तुम जो भी हो, तुम मुझे बताओ, इससे तुम्हारा दर्द हल्का होगा और मैं तुम्हारी help कर सकता हूं।

Millionair Aadmi ke bharose ki kahani

उस Millionair आदमी ने वृद्ध को विस्तार से बताया और रोने लगा। बूढ़े ने उस पर दया की और उस व्यक्ति को 50 लाख का check sign कर के  दिया और कहा, Do your work start again और जब  तुम्हारे पास पैसे हो जाये , तो तुम उसे मुझे return कर देना ।

उस आदमी ने उस बूढ़े आदमी से पूछा, आखिर मैं तुम्हें पैसे return करने के लिए कहां search करूँगा , बूढ़े आदमी ने जवाब दिया – जब तुम्हारे पास  पैसे  हो जाये , तो तुम  मुझे इसी जगह पर search करना  मैं तुमको  इसी जगह मिलूँगा और तब  तुम मुझे पैसे return कर देना  ।

यह कहते हुए वह old man वहाँ से चला गया।

Old man के जाने के बाद, उस आदमी ने चेक देखा तो उसके पैर के निचे से जमीन खिसक गयी उसे यकीन नही हो रहा था कि, जिसके साथ उसने only one hour spent किया  और बात की थी, वह कोई और नहीं बल्कि Ratan Tata थे, जो भारत के सबसे बड़े और सबसे सफल उधोगपति  थे।

यह जानकर, वह व्यक्ति strange हुआ और happy भी हुआ, और उसने सोचा कि जब लोगों को मुझ पर इतना believe है, तो मुझे क्यों नहीं और उसने decide  किया कि उनके दिए हुवे check को बिना इस्तेमाल किये और खर्च किए बिना, मैं अपना साम्राज्य फिर से बनाऊंगा| उसके अन्दर एक नयी उर्जा का परसार होने लगा और अब वह पहले से भी ज्यादा dedication के साथ  अपने work में  लग गाया |

घर जाने के बाद, उसने अपने कमरे में उस 50 लाख का चेक रखा, और इतनी मेहनत की कि केवल 9 months में उसने पहले से भी बड़ा business खड़ा कर दिया।

9 Months के बाद, उन्होंने 50 lakh का check लिया और उसी स्थान पर गए जहां old man ने उन्हें पैसे दिए।

वह old man वहाँ घूम रहा था, उस old man को देखकर यह व्यक्ति उसकी ओर बढ़ा और वह old man तक पहुँचने ही वाला था कि एक नर्स आई और उसे ले गई।

यह देखकर इस व्यक्ति ने उस Nurse से पूछा, उन्हें क्या हो गया है, आप उन्हें क्यों ले जा रहे हैं।

Nurse ने कहा – “वह एक पागल व्यक्ति है जिसका 5 साल से treatment चल रहा है, वह security guard को चकमा देकर  पागल खाने  से बाहर निकल भागता  है और check काटते  हुवे  खुद को Ratan Tata बताता है।”

जब वह ये सुना तो मनो  उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक  गई हो

और वह यह भरोसा  नहीं कर पा रहा था कि मुझे जो  check मिला हुवा था  वह नकली था | मैंने नकली चेक की मदद से इतनी बड़ी कंपनी खड़ी कर ली वह मन में उस परमात्मा को धन्यवाद् कर रहा था जिसने नकली check की सच्चाई को छुपाये रखा था इतने दिनों तक अगर वह पहले जान जाता इस reality को तो शायद वह अपना इतना बड़ा business खड़ा नही कर पाता |

सीख रहा हूँ:

इस कहानी से हमको ये lesson मिलता है कि अगर हमें खुद पर believe हो  तो सबसे बड़ा काम चुटकियों में भी कर सकते है।

इसलिए जो भी काम करें, पुरे confidence और believe के साथ करें।

Leave a Reply